बेटा नहीं था घर, बहू को अकेली देख ससुर का डोला मन, जानें पूरी स्टोरी

बैकुंठपुर थाना क्षेत्र के चांदपुर गांव में एक विवाहिता के साथ उसका ससुर अवैध संबंध बनाने की कोशिश करता था। दरअसल, महिला का पति कमाने के लिए दूसरे राज्‍य में चला गया है। ससुर इस मौके का फायदा उठाना चाहता था। यह बात खुद महिला के पिता ने बताई है। मामला इस मुकाम तक तब पहुंचा, जब महिला की हत्‍या कर दी गई।

बताया जा रहा है कि अवैध संबंध बनाने के ससुर का प्रयास का बहू के द्वारा विरोध किए जाने पर मंगलवार की शाम को ससुर ने अपने छोटे बेटे के साथ मिलकर अपनी बड़ी बहू की हत्या कर दी।

विवाहिता की हत्या के बाद शव को गन्ने में खेत में रखकर उसे जलानेकी तैयार भी ससुराल के लोग कर रहे थे। इसकी सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंच कर शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल में भेज दिया।

जानकारी के अनुसार सिवान जिले के बसंतपुर थाना क्षेत्र के मदारपुर गांव निवासी बुची राय ने अपनी 28 वर्षीय बेटी अनिता की शादी वर्ष 2009 में बैकुंठपुर थाना क्षेत्र के चांदपुर गांव निवासी रामनारायण राय के बेटा उपेंद्र राय के साथ किया था।

बुची राय ने बताया कि इस बीच अनिता देवी ने दो बच्चों को जन्म को दिया। बच्चों के बड़े होने के साथ उनकी परवरिश को लेकर पिता उपेंद्र राय पंजाब में किसी कारखाने में काम करने लगे।

इस बीच विवाहिता अनिता देवी को घर में अकेले देखकर उसके ही ससुर उसके साथ अवैध संबंध बनाने का प्रयास करने लगे। इस दौरान जब अनिता देवी ने अवैध संबंध का विरोध किया तो उसके ससुर अपने छोटे बेटे व बहू के साथ मिलकर बड़ी बहू की गला दबाकर हत्या करने के बाद शव को गन्ने की खेत में ले जाकर जलाने की तैयारी करने में जुट गए।

इसी बीच विवाहिता के पिता व भाई को इसकी सूचना मिली। जिसके बाद पिता व भाई पुलिस लेकर घटनास्थल पर पहुंच गए। घटना के बाद पुलिस मौके पर ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल में भेज दिया। वहीं विवाहिता के पांच वर्षीय बच्चे ने भी पुलिस के सामने अपनी मां की हत्या बाबा व चाचा-चाची के द्वारा करने की बात पुलिस को बताई है।

Leave a Comment